जामनगर, जानकारी, नक्शा, इतिहास और दर्शनीय स्थल

जामनगर के बारे मे जानकारी

जामनगर शहर, गुजरात के जामनगर जिले का मुख्यालय भी है, जामनगर गुजरात के ५ बड़े शहरो की सूचि में है, यहाँ पर भारतीय सेना, वायु सेना और जलसेना का बेस स्टेशन भी है।

जामनगर के अक्षांस और देशांतर २२ डिग्री ४७ मिनट उत्तर से ७० डिग्री ७ मिनट पूर्व तक है, जामनगर का कुल क्षेत्रफल १२८ वर्ग किलोमीटर है और इसका क्षेत्रफल की दृति से राज्य में पांचवा स्थान है, समुद्र तल से १७ मीटर की ऊंचाई पर बसे इस शहर की जनसंख्या ६००९४३ है और जनसँख्या घनत्व ४६८० व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है।

जामनगर में आधिकारिक रूप से बोली जाने वाली भाषाएँ गुजरती, हिंदी, कुटची और अंग्रेजी है, जामनगर का पिनकोड ३६१००१ से लेकर ३६१००८ तक है, एसटीडी कोड ०२८८ और वाहनों का पंजीकरण गुजरात १० से है, जामनगर की समक्षता दर २०११ की जनगणना के अनुसार 82.58% है, जामनगर में ९३९ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है और कुल जनसँख्या का १०% ६ साल से कम उम्र के बच्चो की है।

जामनगर का नक्शा मानचित्र मैप

जामनगर का नक्शा गूगल मैप पर

जामनगर शहर दर्शनीय स्थल

जामनगर में कई प्राचीन मंदिर, किले और स्मारक है जो की दर्शनीय है, यहाँ के मराजाओ की हवेलिया और महल अपने आप में देखने योग्य और आकर्षक है

जामनगर का इतिहास

जामनगर का इतिहास का सही विवरण सन १५४० के बाद से ही मिला है, उस समय जामनगर को नवनगर के नाम से जाना जाता था और तब नवनगर एक रियासत हुआ करती थी, यहाँ के शासक को १३ तोपो की सलामी दी जाती थी.

कुछ ऐतिहासिक श्रोतो के अनुसार यहाँ पर बहादुरशाह, जाम रावल, हमीरजी और अन्य छोटे छोटे शासको ने राज्य किया जो की इस शहर तक ही सीमति थे।

जाम नगर के सबसे प्रसिध्दि प्राप्त शासक महाराजा जमसाहेब श्री रणजीतसिंहजी थे, और जाम नगर को आधुनिक स्वरुप देने का श्रेय इनको ही जाता है, ये क्रिकेट के बड़े शौक़ीन थे, और १९२० से इन्होए जामनगर को न्य रूप देना शुरू किया जिसे इनके पुत्र श्री दिग्विजयसिंहजी ने १९४० में पूर्ण किया, जाम नगर का यही है संक्षिप्त इतिहास।

Leave a Reply

Your email address will not be published.